Mirzapur : जिले में पॉजिटिव-निगेटिव मैच में पॉजिटिव 4-1 से आगे


रिपोर्ट : सलिल पांडेय


मिर्जापुर, (उ0प्र0) : जिले का मौसम गुरुवार, 18 जून को सुहावना था। धूप-छांव भरा दिन था। प्राकृतिक हवा तो शीतल-मंद-सुगंध सी बह रही थी लेकिन कोरोना को यह मंजूर नहीं था। सुनामी सा झोका आया कि जिले में हलचल सी मच गई जबकि मौसम की अनुकूलता के साथ मां विंध्यवासिनी के श्रीचरणों से सुखद हवा यह आई कि पुरोहित परिवार का एक सदस्य पॉजिटिव से निगेटिव हो गया। यह सुकून दब सा गया। कोरोना के मुख्यालय के सीने पर चढ़कर उच्चस्तरीय दो परिवारों से तीन को क्लीन बोल्ड स्टाइल में अपनी चपेट में लेने से लोग दहलते ही दिखे। एक को ग्रामीण इलाके से रन-आउट की स्टाइल में वायरस ने चपेट में लिया। कोरोना के आक्रामक बॉलिंग से अंपायरिंग कर रहे जिला प्रशासन ने फौरी तौर से मुख्यालय कचहरी के पास स्थित विजयपुर की कोठी एवं मिशन कम्पाउंड को हॉटस्पॉट घोषित कर दिया लिहाजा लंबे दिनों बाद 8 जून से खुला न्यायालय परिसर फिर से बंद कर दिया गया।


रह-रहकर दहलाता और जिले को हिलाता रहा अति-अति सूक्ष्म वायरस - सबसे पहले विजयपुर कोठी में रहने वाली महिला अस्पताल की डॉक्टर मंजुलता के पॉजिटिव की रिपोर्ट आई तो सब का जी धक-धक इसलिए करने लगा क्योंकि वे अत्यंत सरल और सहज स्वभाव की चिकित्सक है। उनके प्रशंसको की संख्या अधिक है। हालांकि जिले में अधिकांश दूसरी जांच में निगेटिव हो जा रहे है, इसलिए ये भी निगेटिव होंगी फिर भी परिचय का इनका दायरा बड़ा है, लिहाजा लोगों को यह खबर कष्टदाई लगी।


पीयूष पांडेय के बच्चे - अत्यंत धर्मनिष्ठ स्वभाव के पीयूष पांडेय वीरशाहपुर के निवासी हैं। यहां मिशन कम्पाउंड में किराए पर रहते हैं। इनकी बेटी और पुत्र दोनों नोएडा में सर्विस करते हैं। कोरोना के चलते जब यहां आए तो इन्होंने जिम्मेदार नागरिक के रुप में सैम्पलिंग कराई। कोई लक्षण दिख नहीं रहा था फिर भी गुरुवार को पहले बेटी की रिपोर्ट से परिवार और शुभचिन्तकों को झटका लगा। कुछ देर बाद बेटे की भी रिपोर्ट विपरीत आ गई। इसके बाद पूरे परिवार को क्वारन्टीन की कार्रवाई शुरू हो गई। पीयूष पांडेय राज्य कर्मचारी डिपो में सेवारत हैं। इस खबर के प्रवाह के बाद इनके अनेक परिचितों के घर में पूजा-पाठ शुरू कर दिया गया। चौथी रिपोर्ट पॉजिटिव की बगहां (सीखड़) की थी।


इन विपरीत हवाओं के बीच विन्ध्याचल में 10 जून को पॉजिटिव आए योगेश पांडेय पॉजिटिव से निगेटिव हो गए। अभी इनके भाई और मां की दूसरी रिपोर्ट नहीं आई है। कलेक्ट्रेट के आसपास तीन पॉजिटिव आने से इलाके में आवाजाही पर सतर्क नजर कर दी गई है।


Comments