जाने लॉक डाउन 5 पर क्या कहा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने


रिपोर्ट : रितेश वाघेला


मुंबई : लॉक डाउन 5 पर बोलते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि बारिश आने वाली है, इस बार की मुम्बई की बारिश ज्यादा हो सकती है ऐसी सूचना है। खबर ये भी है कि चक्रवाती तूफान पश्चिमी समुंद्री किनारे पर आने वाला है, इसलिए कोली समाज से निवेदन है कि आने वाले 4-5 दिन आप समुन्द्र में मछली पकड़ने न जाये। हालांकि हमे पूरा भरोसा है कि ये तूफान महाराष्ट्र को छू भी नही सकता। मेरा निवेदन है कि घर से बाहर निकलते ही मुह पर मास्क लगाओ और अपना हाथ धोते रहिये। अपना हाथ बिना धोए चेहरे पर हाथ न लगाओ। सब कह रहे है केंद्र ने खोला आप भी लोक डाउन खोलो। लेकिन दुनिया को देखो क्या हुआ, इसलिए आराम से, ध्यान से रहो।


श्री ठाकरे ने कहा कि हम महाराष्ट्र में धीरे धीरे लॉक डाउन खोलेंगे। 3 जून से धीरे धीरे हाथ पैर हिलाएंगे। आउटडोर व्यायाम न करे, जहां भीड़ होगी वहाँ अनुमति नही। लेकिन गार्डन में घूमने जा सकते है। मित्रो से मिलो लेकिन दूर से। शहरो की दुकाने 5 तारीख से पी 1, पी 2 प्रोसेस में दुकाने शुरू करेंगे। एक साथ सब नही खोलेंगे। हमे महाराष्ट्र को अनुशासन से दुकान खोलने की आदत डालनी होगी। 8 तारीख से हम अपने निजी ऑफिस शुरू करेंगे, ऑफिस में कर्मचारियों की संख्या 10 परसेंट रखेंगे फिर और बढ़ाएंगे ताकि केसेस न बढ़े।


उन्होंने कहा कि वरिष्ठ नागरिक घर से न निकले, खासकर जो 65 साल के ऊपर है। जो घर से बाहर जाएंगे वो घर में आने के बाद बुजुर्गों से बिल्कुल न मिले। अब तक महाराष्ट्र में 65 हजार कोरोना केसेस है इसमें से 28 हजार ठीक होकर घर गए, इनमे एक्टिव केसेस 34 हजार है। 34 हजार एक्टिव केसेस में 24 हजार को कोई लक्षण नही, वो होम कॉरेन्टीन है। इसमें 1200 केसेस गंभीर है जिसमे 200 वेंटिलेटर पर है।


अपनी बात जारी रखते हुए श्री ठाकरे ने कहा कि राज्य में सिर्फ 9500 लोगों को मध्यम से तीव्र लक्षण है अरे ऐसे में लोग कह रहे हैं कि यंहा सेना बुलाओ, यहां पर राष्ट्रपति शासन लागू करो। 65000 मरीज़ों में 28000 ठीक हो कर घर गए हैं। अभी एक्टिव मरीज़ों में से सिर्फ 200 लोग ही वेंटिलेटर पर हैं। पूरे देश में लोग बवाल कर रहे हैं कि महाराष्ट्र में क्या हो रहा है, मुंबई में क्या हो रहा है और आपको बता दूं कि कई लोग वेंटिलेटर पर होने के बावजूद भी घर गए हैं। कुछ लोग महाराष्ट्र को बदनाम करने का काम कर रहे हैं और अपने लोग ही कर रहे हैं इसका मुझे दुख है।


उन्होंने कहा कि कोरोना केसेस को लेकर महाराष्ट्र में बड़ी राजनीति हो रही है, जो गलत है। अगले रविवार से अखबार आपके घर आएंगे, ध्यान ये रखना होगा कि अखबार वाला मास्क पहना हो, सेनेटाइजर उसके पास हो सार्वजनिक जगहों पर सुबह 5 से शाम को 7 बजे तक आप घूम सकते है, सी फेस, समुन्द्र किनारे, तलाव, झील, जंगल जा सकते हो, मैदान में जा सकते हो लेकिन सोशल डिस्टनसिंग का पालन करते हुए।


पूरे महारष्ट्र में 77 टेस्टिंग सेंटर लैब है जो आने वाले जून में 100 कि संख्या हो जाएगी। हमने केंद्र सरकार से और लैब बढ़ाने की मांग की है, गांव जिले कस्बे में ताकि सबका टेस्ट हो जाये। मरीजो को बेड न मिलने की शिकायत पूरी तरह सही नही है। पूरे राज्य में ढाई लाख बेड है जिनमे 25 हजार ऑक्सीजन बेड है।


श्री ठाकरे ने कहा कि पीयूष गोयल जी को मेरे पिछले बयान से गुस्सा आया, उन्होंने दिल पर लिया। लेकिन रेल मंत्रालय की मदद बहुत कम आई। अब तक 16 लाख मजदूरों को बसों और ट्रेनों के जरिये महाराष्ट्र से उनके गांव भेजा गया।


स्कूल को खोलने पर महाराष्ट्र सरकार कटिबद्ध है। लास्ट ईयर के विद्यार्थियों को उनके एवरेज मार्क्स पर पास करना होगा ताकि उनका साल खराब न हो। कई स्कूल कवारेंटिंन सेंटर बने है, कई स्कूलों में फिजिबल तरीके से पढ़ाई नही कर सकते। इन सब पर सरकार मीटिंग करके रणनीति बना रही है, ऑन लाइन, ऑफ लाइन शिक्षा जरूर शुरू होगी जून में।


उन्होंने कहा कि पूरे राज्य में हॉस्पिटल बढ़ेंगे। बड़े मैदानों, एक्सिबिशन सेंटर पर ओपन हॉस्पिटल 24/7 रहे उसकी तैयारी सरकार करेगी ताकि महामारी में सरकार तुरंत तैयार हो सके।


Comments