Delhi : एंटी स्नैचिंग टीम ने कुछ घंटे में दो शातिर लुटेरों को किया गिरफ्तार


कंट्री मेड़ पिस्तौल, दो जिंदा कारतूस व चोरी किए गहनो, होंडा-सिटी कार व अपाचे-बाइक बरामद


रिपोर्ट : अनीता गुलेरिया


दिल्ली : द्वारका सेक्टर 23.में एक लूटपाट की शिकायत एक बुधवार को सुबह साढे-आठ बजे के करीब सेक्टर 22.के पार्क में सैर करने के लिए घूम रहे थे। तभी दो  मोटरसाइकिल सवार झपटमार उनके गले से सोने की चैन को खींचते हुए मौके से फरार हो गए। बुजुर्ग के साथ हुई लूटपाट के मामले को मद्देनजर रखते हुए द्वारका एसीपी राजेंद्र सिंह के दिशा-निर्देशानुसार एसएचओ श्रीनिवासन की अगुवाई में बनी एंटी-स्नैचिंग टीम जिसमें एसआई विवेक मंडोला, एएसआई महेश रंधावा, हवलदार टेकचंद, सुभाष सिपाही सज्जन ने मौके वारदात वाली जगह पर छानबीन करते हुए काफी दूर तक सीसीटीवी फुटेज खंगालते हुए आरोपी लुटेरो को अपाचे-बाइक पर सवार होकर दीनपुर गांव की तरफ जाते हुए देखा। टीम इलाके में पुख्ता जानकारी जुटाने में लगी थी, तभी अगले दिन एएसआई महेश को गुप्त-सूचना मिली वारदात के दोनो लुटेरे अपाचे बाइक से द्वारका सेक्टर 23.बी रेड-लाइट पर पैसों की डीलिंग करने आ रहे हैं। पुलिस टीम तुरंत कार्यवाही करते हुए सीएनजी-पेट्रोल पंप के पास जाल बिछाते हुए इंतजार करने लगी।


शाम को छह बजे के करीब अपाचे-बाइक से दो युवक गोयला-डेयरी की तरफ से आए और बाइक को एक साइड खड़ा करके किसी का इंतजार करने लगे, तभी थोड़ी देर में राधा-स्वामी सत्संग इलाके की तरफ से एक सफेद रंग की होंडा-सिटी कार को आते हुए देखा गया। गाड़ी में से एक लड़का बाहर निकल कर आया और दोनों से बातचीत करने लगा। सूचना-धारक द्वारा इशारा करते ही पुलिस जैसे ही आरोपियों को पकड़ने की कोशिश करने लगी, तो एक लुटेरा बटनदार-चाकू से पुलिस पर हमला करने का प्रयास करते हुए झाड़ियों में छिप गया। इस तरह पुलिस को इन आरोपी लुटेरों पर धरपकड़ बनाने के लिए कई देर तक बदमाशों और पुलिस में हुई मुठभेड दौरान एक आरोपी ने पुलिस पर गोली चलाई और सेंट्रो गाड़ी में बैठे युवक ने पुलिस पर गाड़ी चढ़ाने की नाकाम कोशिश भी की। बाद में गाड़ी को वहीं छोड़कर वह मौके से फरार हो गया। लेकिन पुलिस ने मुस्तैदी पूर्वक तरीके से घेराव करते हुए दो आरोपियों को अपनी गिरफ्त में ले लिया। मौके पर ली गई तलाशी दौरान आरोपियों से कंट्री-मेड पिस्तौल व दो जिंदा कारतूस, वारदात में इस्तेमाल की गई सफेद रंग की अपाचे-बाइक होंडा-सिटी कार, टुटी हुई सोने की चेन, एक बटनदार-चाकू, 14 ग्राम सोना व एक सोने की चेन व दो अंगूठी, बाइस-हजार कैश, एक चोरी की हुई सोने की चेन नजफगढ़ की फाइनेंशली-कंपनी में लोन के लिए रखी, होंडा-सिटी कार जिसे एक आरोपी छोड़कर मौके से फरार हो गया को पुलिस ने जब्त कर लिया है।


द्वारका उपायुक्त अंटो अलफोंस अनुसार पकड़े गए आरोपी-लुटेरों में से एक का नाम सुरेश उर्फ टिंकू उम्र (36) शिवपुरी दीनपुर से है। इस आरोपी पर पहले से चोरी के सात मामले छावला, द्वारका- साउथ व डाबडी थाने मे दर्ज है। दूसरा आरोपी मोहम्मद बसीद उर्फ बिलाल उम्र (19) जीवन पार्क का रहने वाला है। दोनों के पकड़े जाने से तेरह-चोरी के मामलो का एक साथ खुलासा हुआ है। पुलिस-कडी पुछताछ दौरान दोनों आरोपियों ने अपना जुर्म कबूलते हुए बताया वह अजय नाम के शख्स के लिए काम करते थे,चोरी किए हुए गहनो को वह सेवा-पार्क के एक छोटे ज्वेलर्स के पास उसी समय बेच देता था। वह उनके साथ चोरी लूटपाट मामले में पूरी तरह से सम्मिलित रहता था। दोनों आरोपी स्मैक इत्यादि नशे की लत पूरी करने के लिए पैसों की पूर्ति हेतु चोरी-लूटपाट की वारदातों को अंजाम देते थे और हथियार का इस्तेमाल पीड़ित को डराने के लिए करते थे। द्वारका पुलिस लूटपाट व आर्म्स-एक्ट तहत मामला दर्ज कर आरोपियों से गहन-तफ्तीश करते हुए इनके द्वारा चोरी की कितनी और वारदातों को अंजाम दिया गया है सुलझाने में लगी है। पुलिस ने फरार चला रहे तीसरे-आरोपी के जल्दी पकड़े जाने के आसार जताए हैं।


Comments