Delhi : भांजी से मिलने से रोका तो चाकुओं से गोद कर कर डाली हत्या

बाहरी जिला मंगोलपुरी इलाके में हुए ब्लाइंड-हत्या केस को पुलिस ने महज चौबीस-घंटे के अंदर सुलझाते हुए दो हत्यारों को दबोचा, एक आरोपी जुवेनाइल



रिपोर्ट : अनीता गुलेरिया


दिल्ली : मंगोलपूरी इलाके मे रात दस बजे के करीब के Y-ब्लॉक में एक साइकिल सवार ड्यूटी से लौट कर आ रहा था,घर से महज सौ मीटर की दूरी पर कुछ अज्ञात युवक उसे चाकुओं से गोदते हुए वारदात वाली जगह से फरार हो गए मौके पर पहुंची पुलिस द्वारा आनन-फानन में उसे संजय गांधी अस्पताल ले जाया गया यहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई,मृतक राकेश उम्र (32) शादीशुदा है उसकी बीवी और एक बच्ची गांव में रहती है,पुलिस को मृतक के पास से उसका मोबाइल और पैसे मिले जिससे प


यह लूटपाट नहीं बल्कि आपसी रंजिश तहत हत्या की साजिश लग रही थी,पुलिस ने मौके से सीसीटीवी फुटेज को खंगालते हुए उसमें दिखाई दे रहे दो युवकों की पहचान के लिए सौ के करीब स्थानीय-लोगों से पूछताछ करते हुए जानकारी जुटानी शुरू की इसी बीच पुलिस द्वारा एक स्धानिय-निवासी द्वारा हत्या का मामला पुख्ता करने के साथ वहीं पास में Y-ब्लॉक के रहने वाले एक शख्स से सख्ती से की गई पूछताछ दौरान अपना जुर्म कबूलते हुए बताया उसने अपने एक अन्य साथी के साथ मिलकर इस हत्या-वारदात को अंजाम दिया था,पुलिस ने उसकी निशानदेही पर दूसरे आरोपी को को दबोचते हुए वारदात में इस्तेमाल किए दो चाकू भी बरामद कर लिए,


बाहरी जिला उपायुक्त डाॅ ए.कॉन अनुसार पकड़े गए दोनों मुजरिमों में से एक का नाम रितिक उम्र (18) और दूसरा आरोपी जुवेनाइल है। दोनों आरोपी Y-ब्लाक मंगोलपुरी निवासी हैं। पुलिस कड़ी पूछताछ दौरान रितिक ने बताया उसके दोस्त पुनीत की गर्लफ्रेंड (नेहा) बदला हुआ नाम मृतक राकेश की भांजी थी। राकेश नेहा को पुनीत से मिलने को मना करता था और दोनों पर पूरी तरह से नजर रख रहा था। कुछ दिन पहले मृतक-राकेश अपनी भांजी की घर के बाहर पिटाई कर रहा था तभी उसके दोस्त पुनीत ने राकेश को ऐसा करने से मना किया तो राकेश ने उसकी भी पिटाई करते हुए दोबारा नेहा से ना मिलने को धमकाया,वारदात वाली रात रितिक अपने दोस्त के साथ बैठकर बीयर पी रहा था तभी उन्होंने सामने से साइकिल पर सवार राकेश को ड्यूटी से लौटकर घर की ओर जाते हुए देखा,दोनों ने अपने दोस्त की पिटाई का बदला लेने के लिए गली में अंधेरे का फायदा उठाते हुए रकेश पर दो घातक-चाकुओं से बुरी तरह से ताबड़तोड़ हमला करते हुए मौके से फरार हो गए, मंगोलपुरी पुलिस ने हत्या मामले को मद्देनजर रखते हुए आईपीसी की धारा तहत मामला दर्ज कर दोनों हत्यारों को गहन तफ्तीश के जरिए चौबीस-घंटे में जेल की सलाखों के अंदर पहुंचाया ।


Comments