Delhi : आईआरएस ऑफिसर ने कोरोना के डर से की खुदकुशी !


रिपोर्ट : अनीता गुलेरिया


दिल्ली : द्वारका साउथ पुलिस को सेक्टर 6 सनमति कुंज अपार्टमेंट के बाहर गाड़ी के अंदर एक शख्स के सुसाइड करने की खबर मिली। मौके पर पहुंची पुलिस ने गाड़ी से शव को बाहर निकाला, हालात देखने पर पता चल रहा था कि शख्स ने कुछ जहरीला पदार्थ खाकर खुदकुशी करने की कोशिश की है। आनन-फानन में पास के मणिपाल अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टरों द्वारा व्यक्ति को मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेते हुए दीनदयाल अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। जांच में पता चला मृतक का नाम शिवराज सिंह उम्र (56) वह सनमति अपार्टमेंट में कई सालों से अपने परिवार सहित रहते थे, वह आईआरएस ऑफीसर थे। हफ्ता भर पहले कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आने के बावजूद वह काफी दिनों से परेशान थे कि कहीं उनका परिवार कोरोना संक्रमित ना हो जाए।


परिजनों अनुसार दोपहर दो बजे के करीब घर से बाहर कुछ सामान लेने के लिए निकले थे और गेट के बाहर गाड़ी खड़ी करके आईआरएस ऑफिसर ने कुछ एसिड खा लिया। काफी देर तक हलचल ना होने से गार्ड ने गाड़ी के अंदर बेसुध अवस्था मे पडे शिवराज सिंह के घर वालों को सूचित किया। पुलिस को शव के बाद सुसाइड नोट भी मिला, जिसमें उन्होंने अपने परिवार के कोरोना संक्रमित होने के भय का स्पष्ट जिक्र किया है। समझ नहीं आता यदि पढ़े-लिखे लोग खुद इस संक्रमण से भयभीत होकर अपनी जान को गवाएंगे, तो वह आम जनता को क्या सबक सिखाएगे। इसलिए इस भयंकर सक्रमण से डरने की कतई जरूरत नहीं है। हजारों कोरोना पाजिटिव मरीज हमारे सामने ठीक हो रहे हैं, फिर भी पता नहीं क्यों लोग इस तरह मरघट की तरफ कदम उठाने को मजबुर हो रहे है ?


Comments
Popular posts
‘श्रीयम न्यूज नेटवर्क’ की प्रतियोगिता ‘मां की ममता’ का परिणाम घोषित, आलेख वर्ग में रीता सिंह तो काव्य वर्ग में अंजू जांगिड़ ने मारी बाजी
Image
रिपब्लिकन पार्टी के कार्यकर्ताओं को दुध एल्गर आंदोलन में शामिल होना चाहिए - केंद्रीय राज्य मंत्री रामदास आठवले
Image
बाल विकास विभाग की कारगर योजनाओं से ही कुपोषण से मिला मुक्ति, 2668 केन्द्रों पर पौष्टिक आहार के लिए बच्चों, महिलाओं व किशोरियों में आ रही जागरूकता
Image
एण्डटीवी के ‘येशु’ में कौन होगा शैतान का अगला शिकार?
Image
विश्व पीसीओएस जागरूकता माह : जरूरी है जागरूकता, बचाव एवं समय पर उपचार
Image