बाबा रामदेव के उपर लगे आरोप शायद अदालत पहले ही सुनवाई में खारिज कर देगी !


रिपोर्ट : किशोर सिंह


दिल्ली : समय बलवान है ये कहावत सच साबित करता है, जो बीत रहा है बाबा रामदेव पर उसे देख कर पिछले हफ्ते 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया। हिंदुस्तान के सभी प्रमुख अखबार और टीवी चैनल ने जोर शोर से बाबा रामदेव की जम कर तारीफ की थी और हकीकत भी यही है योग का नामो निशान भारत देश में गायब हो गया था। उसको पूर्ण जन्म बाबा ने दिया और आज महामारी में सारा देश विदेश योग कर के अपने आप को सुरक्षित महसूस कर रहा है। ऐसे महान बाबा पर आज कई राज्य में मुकदमे दर्ज हो रहे हैं उनके कोरॉनिल दवाई को लेकर, ऐसे इस दवाई में जो भी चीजें मिलाकर बनायी गई है जैसे तुलसी, गिलोय इत्यादि ये सभी शरीर के लिए अमृत के समान है और रोग निरोधक है। ऐसे में बाबा के उपर लगे आरोप शायद अदालत पहले ही सुनवाई में खारिज कर देगी। ऐसा किशोर सिंह ने ट्वीट किया है। अब देखना है कि अदालत इस पर क्या कार्यवाही करेगा?


Comments