उन्नाव नगर पालिका की लापरवाही


रिपोर्ट : तनवीर खान


उन्नाव, (उ0प्र0) : जहाँ देश मे कोरोना जैसा वायरस पूरी तरह से अपना पाँव पसार चुका है, वहीं बात की जाये उन्नाव की तो गंदगी को लेकर नगर पालिका प्रशासन उन्नाव मौन है। प्रदेश सरकार स्वच्छता के नाम पर करोड़ो रुपये खर्च कर रही है। वही ज़िला उन्नाव शहर मे नगर पालिका क्षेत्र मे जगह-जगह कूड़े के ढ़ेर लगे हुए है और न ही नाले नालियों की सफ़ाई हो रही है।


कोरोना वायरस को लेकर पूरा भारत अलर्ट है। वही नगर पालिका प्रशासन सो रहा है। न ही एन्टी लार्बा का छिड़काव हो रहा है। सफाई व दवाओं का छिड़काव न होने से फैल रहे संक्रमण रोग। पालिका का हाल यह है कि जहाँ तहाँ सैनिटाइजर और चूने का छिड़काव तो हो रहा है, लेकिन नाम मात्र और उसमे भी सैनिटाइजर के नाम पर केवल पानी का प्रयोग किया जा रहा है और चूने की जगह पर डस्ट का छिड़काव किया जा रहा है।


कई सभासदों का यह भी कहना है कि पालिका के अधिकारियों और कर्मचारियों को सफाई के लिए फोन करते रहो तो फोन नही उठाते है। यहाँ तक कि वार्ड नं 30 के सभासद मेराजुद्दीन ने अपने खर्च पर अपने वार्ड मे कुछ दिन पहले सैनिटाइजर करवाया है और यही नही अभी हाल ही मे एक सभासद और सफाई इंस्पेक्टर से कहासुनी हो गई तो सफाई इंस्पेक्टर के लोगो ने सभासद की पिटाई तक कर दी।


Comments