Mirzapur : संदिग्धों के इलाज में डाक्टरों ने लिया टेलीमेडिसीन का सहारा


टेलीमेडिसीन के जरिये डाक्टरों से परामर्श 465 मरीजों का सफल उपचार


रिपोर्ट : टी.सी.विश्वकर्मा


मिर्जापुर, उत्तर प्रदेश : कोरोना वायरस महामारी से इस समय पूरा देश जूझ रहा है। इस बीच गम्भीर बीमारियों के साथ ही साथ आनलााइन अपोलो के डाक्टरों से परामर्श के माध्यम से बाहरी जिलों से आये हुए 465 मरीजों का सफल उपचार कर उनको घर भेजने का कार्य किया जा चुका है। सुरक्षा व्यवस्था का बखूबी ख्याल रखने के साथ ही शारीरिक दूरी का पालन करते हुए आम आदमी के लिए यह व्यवस्था भी किसी बूंटी से कम नही है।


अपर मुख्य चिकित्साधिकारी/जिला सर्विलांस अधिकारी डा0 अजय ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र के लोग जब अस्पताल नही पहुंच पाये रहे है तो ऐसे में अपने नजदीकी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर पहुंचकर इस व्यवस्था का लाभ ले रहे है। इस समय टेलीमेडिसीन के जरिये कछवां, चुनार, मड़िहान, नरायनपुर, जमालपुर व लालगंज के ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को यह सुविधा काम आ रही है। इस केन्द्रों पर बाहर से आने वाले लगभग 973 लोग है। जिनमें से अब तक 465 लोगो का सफल ईलाज कर उनको घरों के लिए भेजे दिया गया है। इस माध्यम से न गम्भीर बीमारियों का निदान हो रहा है। बल्कि कोरोना से बचाव के लिए विशेषज्ञ डाक्टरों टिप्स भी दिये जा रहे है।


मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 ओ0पी0तिवारी ने बताया कि कोरोना के समय लोग अपने घरों से बाहर नही निकल पा रहे है। ऐसे में उन लोगो के लिए यह सेवा अत्यन्त लाभकारी है। उन्होने बताया कि चिकित्सकों की ओर से विभिन्न प्रकार के रोगों का ईलाज किया जा रहा है। इस लाॅकडाउन के दौरान हम मरीजों को एक मीटर की दूरी पर बैठाने का कार्य कर रहे है। इस सेवा के तहत न सिर्फ एलोपैथिक बल्कि आयुवेद एवं होम्योपैथी के मरीजों को भी इसका लाभ पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है। बताया कि वर्तमान से प्रतिदिन 475 से ज्यादा मरीजों का ईलाज करने का प्रयास किया जा रहा है। इस व्यवस्था से जल्द ही सभी केन्द्रों पर ईलाज चालू कर दिया जायेगा।


Comments