मानव संसाधन एवं महिला विकास संसाधन व आशा के सहयोग से प्रवासी मजदूरों को भेदभाव से बचाने के लिए चलाया जा रहा अभियान



  • टीकाकरण अभियान के साथ ही साथा ग्रामवासियों को समझाने का किया जा रहा कार्य


रिपोर्ट : टी0सी0विश्वकर्मा


मिर्जापुर, (उ0प्र0) : कोविड वायरस की वजह से जिले में इन दिनों कोविड को लेकर तरह-तरह की बाते होने लगी है। जिससे ग्राम में लौटे प्रवासी के द्वारा भेदभाव रखा जा रहा है। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर मीरा देवी इन दिनों अपने कार्यरत क्षेत्र कंचनपुर में सरकारी अभियान के साथ प्रवासी मजदूरों के साथ किसी प्रकार का भेदभाव न किया जाये उसके प्रति भी जागरूक करने का कार्य कर रही है। जनस्वास्थ्य सुविधाएं अगर बेहतर तरीके से सुदूर क्षेत्रों में काफी सुविधा प्रदान की जा रही हैं तो कहीं न कहीं धरातल पर उसको सही तरीके से  पहुंचाने वाले वहां के स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की भूमिका अहम होती है। इनके पति अपने पारिवारिक भूमि पर कृषि का कार्य करते है। इनका परिवार मध्यम श्रेणी का परिवार है। इनके 6 बच्चे है। ये पिछले 19 वर्षो से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर कार्यरत है इनका यह कार्य अत्यन्त सराहनीय प्रशंसनीय रहा है।


प्रवासियों को गांव वालों ने जब घुसने नही दिया


कंचनपुर गांव में तैनात मीरा देवी कोविड 19 के तहत सरकारी टीकाकरण अभियान में डोर-टू-डोर टीकाकरण का कार्य कर रही थी तब उन्हें पता चला कि दूसरे प्रदेश से 15-20 की संख्या में प्रवासी मजदूर गांव के बाहर ही भूखें प्यासे बगीचे में दो दिनों से है तब मीरा ने अपने घर से खाना बनाकर उन मजदूरों को खाना खिलाया और उनसे पूछा कि आप लोगो का जांच हुआ है कि नही तब उन्होने बताया कि अभी तक नही क्योंकि हम लोगो के पास जो कुछ रूपया था रास्ते में ही खत्म हो जाने के कारण कही आ जा नही पा रहे है तक मीरा ने सबकों लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अहरौरा पर गई और वहां पर उपस्थित डाक्टर राजकुमार के द्वारा उनका स्वास्थ्य परीक्षण कराया और उनको 14 दिनों के लिए क्वारटीन में रखा गया । इसके अलावा मीरा देवी ने कंचनपुर गांव में मानव संसाधन एवं महिला विकास संसाधन के सदस्यों के द्वारा अभियान चलाकर लोगो को जागरूक करने का कार्य किया और कोविड 19 से बचने के लिए गांव के दीवालों पर वाल पेंटिग के साथ सभी ग्रामवासियों को विस्तारपूर्वक समझाने का कार्य किया। यह जिले इस तरह के किये गये कार्य पर प्रभारी चिकित्साधिकारी के अलावा मुख्य चिकित्साधिकारी ने भी काफी प्रशंसा किया है और कहा कि मीरा देवी के इस बुरे समय में लोगो की मदद एक सबक के रूप में जो सभी आशाओं के एक प्रेरक का काम करेगा।


Comments