लाल चुनरी और गुड़हल फूल पर रीझने वाली देवी से हो रही प्रार्थना- '....जगदंब विलंब कहां करती हौ


अगला क्वारन्टीन सेंटर शेम्फोर्ड स्कूल


मिर्जापुर, (उ0प्र0) : जिले में एक तहसील लालगंज को शायद अपना अड्डा मानकर कुदृष्टि डाले हुए है अंतरराष्ट्रीय कुख्यात दैत्याधिराज कोरोना बड़ी तेजी से इसे रेडग़ंज (रेड-जोन) बनाने की चाल चल रहा है। लेकिन ऐसे ही दुर्दांत महिसासुर, शुंभ-निःशुम्भ, चन्ड-मुंड, धूम्रलोचन इन सबकी आंख निकालकर लालचुनरी और लाल गुड़हल के फूल पर रीझने वाली एवं विंध्यधाम में बसने वाली त्रिकोण की देवियों ने वध कर दिया था।


पुराणों की कथा - शिवपुराण की कथा में जनमानस के रक्षक देवताओं को पीड़ा देने के लिए पहले तो महिषासुर से महालक्ष्मी युध्द कर उसका वध करती हैं । सामूहिकता के महत्त्व को स्थापित करने के लिए चन्ड-मुंड का वध मां काली करती हैं और अंत में शुभ-निःशुम्भ का वध मां सरस्वती करती हैं । इस पुराण के उमा-संहिता के 46 वें अध्याय के श्लोक 49 से 60 तक में महिषासुर का जो उल्लेख है वह कोरोना वायरस के समान है । महिषासुर भी अदृश्य रूप में कभी देवी पर, कभी जनमानस पर, कभी जानवर पर तो कभी वनस्पतियों को संक्रमित करता है लेकिन महालक्ष्मी अपनी सुदृढ युध्द-शैली से उसका प्राण हर लेती हैं । इसके बाद 47 और 48 अध्याय में क्रमशः मां काली एवं मां सरस्वती शेष वायरसों का उन्मूलन कर देती हैं ।


विंध्यधाम में हैं जिले के 16 पॉजिटिव मरीज - 18 मई तक जिले के 16 पॉजिटिव मरीज भर्ती हो गए थे । जबकि भदोही के 5 एवं सोनभद्र से एक को मिलाकर कुल 22 लोग भर्ती हैं। गत एक सप्ताह में 14 मरीज जिले में गैर प्रान्तों से आने वाले डिक्लेयर हुए। अनुमान भी था कि दिल्ली के जमाती के बाद इधर बम्बइया और गुजराती आ रहे हैं, उससे जिले का ग्राफ बढ़ेगा। 18 मई तक 110 जांच पेंडिंग में थे । 18 को 28 जॉच में 4 पॉजिटिव निकल गए । इसलिए 20 केस पर रेड जोन बनने के मानक से मिर्जापुर सिर्फ 4 कदम पीछे है। जैसे जैसे इस दैत्य का आतंक बढ़ रहा है वैसे वैसे मोहि पुकारत देर भई जगदंब विलम्ब कहाँ करती हौ की आर्तनाद से त्रिकोण शक्तियों से अनुनय विनय बढ़ गया है।


विंध्यधाम के बाद शेमफोर्ड बनेगा क्वारन्टीन सेंटर विंध्याचल में 30 बेड की क्षमता है। इसके फूल हो जाने पर शेमफोर्ड के बसहीं को 150 बेड का सेंटर बनाने की कवायद चल रही है । प्रशासन की अग्निपरीक्षा में ज्नता की शुभकामनाएँ साथ हैं कि प्रशासन इसमें सफल रहे ।


Comments