कोविड-19 से सम्बन्धित बनाई गयी टीम 11 की समीक्षा बैठक, निगरानी समिति का निरीक्षण सन्तोष जनक रहा - नोडल अधिकारी


रिपोर्ट : तनवीर खान


उन्नाव, (उ0प्र0) : जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार कि अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट कक्ष में कोविड-19 से सम्बन्धित बनाई गयी टीम 11 की समीक्षा बैठक की गई। बैठक में कोविड-19 से सम्बन्धित संयुक्त आवास आयुक्त उ0 प्र0 शासन/नोडल अधिकारी अनिल कुमार सिंह ने लाॅकडाउन के दौरान अब तक की गई विभिन्न प्रकार की कार्यवाही की समीक्षा करते हुये श्री सिंह ने कहा कि उन्नाव में निगरानी समिति का निरीक्षण सन्तोष जनक रहा।


जिलाधिकारी ने बताया कि कोविड-19 के तहत कोरोना वायरस  के संक्रमण से निपटने एवं आम जनता में जन जागरूता लाये जाने के उद्देश्य से निगरानी समितियों को प्रभावी बनाये जाने के उद्देश्य से जनपद स्तरीय नोडल अधिकारी की तैनाती की जा चुकी है। ताकि जनपद स्तर से लेकर नगरीय एवं ग्रामीण स्तर पर  प्रभावी नियन्त्रण एवं कार्यवाही समय से हो सके। उन्होंने बताया कि जिले स्तर पर जिला विकास अधिकारी, विकास खण्ड स्तर पर खण्ड विकास अधिकारी तथा नगर निकाय स्तर पर अधिशाषी अधिकारी नामित किये गये है। जो अपने अपने क्षेत्र के सभासद/ग्राम प्रधानों के माध्यम से निगरानी समिति के कार्य को क्षेत्रीय लोगो में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव एवं गैर प्रान्त से आये श्रमिकों के बारे में पूरी जानकारी रखकर यथा सम्भव शासनादेश के तहत अपनी जिमेदारी का निर्वाहन करेंगे। उन्होंने बताया कि कुछ नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्र के सदस्य अपने दायित्वों के निर्वाहन मे लापरवाही की शिकायतें प्राप्त हुई है। उनके विरूद्ध कार्यवाही किये जाने की रूप रेखा तैयार कर ली गई है।


जिलाधिकारी एवं जनपद नोडल अधिकारी अनिल कुमार सिंह ने उप जिलाधिकारी नन्हकू एवं जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देश दिये कि प्रवासी श्रमिकों के राशन कार्ड की फीडिंग आॅनलाइन भरे जाये। किसी भी प्रात्र व्यक्तियों को राशन कार्ड से वंछित न रखा जाये। प्रयास यही किया जाये कि जितने प्रार्थना पत्र आये उन्हें उसी दिन निस्तारित किया जाये। अपर जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह को निर्देश दिये की खाद्यान किट एवं कम्युनिटी किचन को प्रभावी तरीके से लागू किया जाये। खाद्यान किट माग के अनुसार पूरे जनपद में भेजे जाने हेतु पर्याप्त मात्रा में स्टाॅक रखा जाये। खाद्यान किट जिन प्रवासियों को दिये बगैर उनके घर  भेज दिया गया है उन्हें उपलब्ध कराकर प्राप्ति रसीद सुरक्षित रखी जाये। ताकि रेण्डम जांच में उपलब्ध हो सके। खाद्यान किट की फीडिंग अवश्य कि जाये। मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि आशा बहु के द्वारा गांव गांव गैर प्रान्त से आये प्रवासियों को चिन्हाकिंत कराकर सूची तैयार करायी जा रही है। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिछिया केा एल-1 होने के कारण स्वास्थ्य सम्बन्धित समस्त तैयारिया पूर्ण है।


जिलाधिकारी ने कोविड-19 के तहत शासन स्तर से तैनात किये गये जपनद नोडल अधिकारी श्री अनिल कुमार सिंह को बताया कि लाॅकडाउन के दौरान आम जनमानस की सुविधा हेतु डोर स्टेप डिलवरी चलाई गई जो सफल रही। किसानों की उपज का सही मूल्य मिले इसके लिये जिला प्रशासन द्वारा जपनद में लगभग 06 सब्जी मण्डियों को चालू कराया गया। उन्होंने बताया कि कन्ट्रोल रूम में जो भी शिकायते आई उन्हें तत्काल निस्तारण कराया गया। जनपद में पर्याप्त संख्या में शेल्टर होम बनाये गये है। बैठक में मुख्य विकास अधिकरी डा0 राजेश कुमार प्रजापति, अपर जिलाधिकारी श्री राकेश कुमार सिंह/ श्री राकेश गुप्ता, नगर मजिस्ट्रेट श्री चन्दन पटेल, उप निदेशक सूचना डा0 मधुु ताम्बे सहित कमेटी के सम्बन्धित अधिकारी गण आदि उपस्थित थे।


Comments