कोरोना वायरस 


डॉक्टर सरिता शुक्ला


कोरोना को लेकर पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है सबसे पहले चीन में,और फिर ईरान से लेकर इटली तक कोरोना  का ख़तरा बढ़ गया है।और तो और अब भारत में भी कोरोना का ख़तरा दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है.....कोरोना वायरस को लेकर हमारे माननीय प्रधानमंत्री “श्री नरेन्द्र मोदी जी “ने गुरुवार को देश की जनता के समक्ष एक बहुत ही बड़ी अपील करते हुए २२ मार्च को जनता कर्फ़्यू की माँग की थी।


जिसका असर (२२ मार्च)को हमारे देश के कोने कोने में बड़ी तेज़ी से दिखा।सभी ने जनता कर्फ़्यू का बड़ी ईमानदारी से पालन किया,एवं सायंकाल ५बजे पॉच मिनट तक डॉक्टरों,नर्सों,मीडिया कर्मियों एवं पुलिस कर्मियों का ताली, थाली,एवं घंटी बजाकर उनका उत्साह वर्धन एवं आभार व्यक्त किया सभी देश वासी आपसी वैमनस्य को भुलाकर एकजुट होकर इस संक्रमण को परास्त करने के लिए साथ खड़े हो गये।हमारे देश के राजनेताओं,सामाजिक कार्यकर्ता ने कई दिनों से जागरूकता अभियान भी  चलाए हुए है।ये लोगों के घर घर जाकर उन्हें इस संक्रमण से बचने के उपाय एवं इसके लक्षण और साथ में मास्क भी दे रहे हैं....इस महामारी से हम सभी को अत्यंत धैर्य एवं विश्वास के साथ लड़ना होगा...मैं इस महामारी (कोरोना वायरस )को हराने के लिए जनता कर्फ़्यू का ह्रदय से स्वागत करती हूँ, यह एक अकेले आदमी की जंग नहीं है बल्कि 130 करोड़ देशवासियों की जंग है.....अतः हमें पूर्ण विश्वास है कि हम भारतीय इस जंग को ज़रूर जीतेंगे....।


यह महामारी दिन प्रतिदिन विकराल रूप लेती जा रही हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया है। कोरोना एक बहुत ही सूक्ष्म लेकिन बहुत ही प्रभावशाली वायरस है। यह वायरस मानव के बाल की तुलना में ९०० (नौ सौ) गुना छोटा हैं....लेकिन इसका संक्रमण पूरी दुनिया भर में बड़ी तेज़ी से फैल रहा है। इसके संक्रमण के फलस्वरूप बुखार, जुकाम, खाँसी, साँस लेने में तक़लीफ, नाक बहना, छींक आना एवं गले में ख़राश जैसी समस्याएं उत्पन्न होती हैं। ये वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में बहुत तेज़ी से फैलता है। यह खाँसी और छींक से गिरने वाली बूंदों के ज़रिए फैलता है ...।


कोरोना वायरस दिसंबर माह २०१९ में सबसे पहले चीन में पकड़ में आया था। कोरोना वायरस अभी चीन में उतनी तीव्र गति से नहीं फैल रहा है जितना की पूरी दुनिया के अन्य देशों में फैल रहा है। इस संक्रमण से बचने के लिए अपने हाथों को हर दस मिनट में साबुन से धोना चाहिए, अल्कोहल आधारित हैड रब का इस्तेमाल करना चाहिए, खाँसते और छींकते समय नाक और मुँह को रूमाल या टिश्यू पेपर से ढक कर रखना चाहिए, संक्रमित व्यक्तियों से दूरी बनाकर रखना चाहिए, अंडे एवं मांस का प्रयोग बिलकुल नहीं करना चाहिए। अतः इस संक्रमण से बचने के लिए विश्व के ज़्यादातर देशों में लॉकडाउन कर दिया गया है...।


हमारे भारत देश में भी मोदी जी के निर्देश के अनुसार लॉकडाउन का तीसरा चरण जारी है हमारे माननीय प्रधानमंत्री बार बार लोगों से घरों में रहने की एवं सामाजिक दूरी बनाए रखने की अपील कर रहे हैं....मोदी जी के इस अभियान में डॉक्टरों नर्सों की टीम पूरी शिद्दत से चौबीस घंटे काम कर रही है जो अत्यंत ही सराहनीय हैं पुलिस कर्मी एवं हमारे मीडिया कर्मी सभी अपना विशेष योगदान दे रहे हैं हमें सरकार द्वारा निर्देशित दिशा निर्देशों का पालन करना चाहिए और इस भयानक महामारी को एक जुट होकर हराना चाहिए।


कोरोना वायरस मामलों में चीन के करीब पहुँच गया हमारा भारत देश, अगले 24 घंटे में 3722 नए केस सामने आये है ।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में आए 3722 नए कोरोना वायरस मामलों के साथ देश में अब कुल कोरोना वायरस मामलों की संख्या बढ़कर 78003 हजार हो गई है। जो अत्यंत ही भयावह है।
बस हमारी ईश्वर से यही कामना है कि जल्दी से हम सभी इस महामारी से निजात पाएँ और एक बार फिर पूरा 20 इस वैश्विक महामारी के संकट से निजात पाएँ।


Comments