कोरोना से साथियों अपना करे बचाव


✍️ सोलंकी अनिल "बेधड़क" (शिकोहाबाद)


कोरोना से साथियों अपना करे बचाव,
मास्क लगाकर घूमिए वरना फिर पचताव।
मंदिर में नहीं दोस्तों घर पर पढ़े नमाज,
कहे बेधड़क आपसे सुरक्षित रहे समाज।
चिकित्सकों का बेधड़क सदा करो सम्मान,
लानत उस इंसान पर करते जो अपमान।
हाथ जोड़ विनती करूं दीनबंधु भगवान,
कोरोना का कीजिए आकर शीघ्र निदान।
हे चक्र सुदर्शन धारी तुमको वैकुंठ छोड़ अब आना होगा,
कोरोना से जूझ रहे जो उनको मुक्त कराना होगा।
हम नहीं सुरक्षित कोरोना से तुमसे अपनी कहे,
कई काल के गाल समा गए इसको जड़ से मिटाना होगा।


Comments