झोलाछाप डॉक्टर के इलाज से किसान की मौत


रिपोर्ट : तनवीर खान


उन्नाव, (उ0प्र0) : फतेहपुर चौरासी। झोलाछाप डॉक्टर के इलाज से एक किसान की मौत हो गई। मृतक की पत्नी ने झोलाछाप डॉक्टर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। थाना पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।


थानाक्षेत्र के ग्राम पटियारा मजरा सूसूमऊ निवासी रामजानकी ने बताया कि उसके पति रामआसरे (45) का स्वास्थ्य खराब था। सीने में दर्द होता था। जिनका उपचार शास्त्रीनगर में संचालित क्लीनिक के डॉक्टर कर रहे थे।


मंगलवार को जब दर्द बढ़ा तो राम आसरे ने डॉक्टर को  फोन कर के उपचार के लिए बुलाया। ग्लूकोज व इंजेक्शन देने पर राम आसरे की मौत हो गई। मौत होते ही डॉक्टर मौके से भाग निकले। बाद में मालूम हुआ कि डॉक्टर झोलाछाप है।


मृतक के 6 बेटियां व 2 बेटे हैं। जिनमें दो बेटों व दो बेटियों की शादी हो चुकी है। प्रभारी निरीक्षक हरिकेश राय ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।


Comments