इस घड़ी ने ...घड़े की


✍️  प्रीति शर्मा "असीम" (नालागढ़, हिमाचल प्रदेश)


इस घड़ी ने घड़े की,
कीमत बता दी।


जो लोग...
मिट्टी से टूट चुके थे। 
मिट्टी ने,
आज अपनी,
उनको अहमियत बता दी।


इस घड़ी ने,
घड़े की कीमत बता दी।


युगों-युगों से यह बताते रहे।
साथ मिट्टी के जीवन गीत गाते रहे।


इस घड़ी ने,
घड़े की कीमत बता दी।


जो लोग भूल चुके थे।
आधुनिकता की दौड़ में,
घड़ा याद आता था।
अंतिम समय के मोड पे।


आज वही घड़ा याद आ रहा है। 
जीवन घड़ी के,
इस छोर से उस छोर में।


***********


Comments
Popular posts
सीएम उद्धव ठाकरे ने पूरे राज्य के लोगो को अगले 8 दिन सतर्क रहने को कहा है--वरना लॉक डाउन लगाने के संकेत भी दे दिए है
Image
आपसी विवाद में युवक घायल, मामला रफा-दफा करने मे जुटी थी पुलिस
Image
दादरा और नगर हवेली से लोकसभा सदस्य मोहन डेलकर मुंबई के एक होटल में पाए गए मृत, गुजराती में लिखा सुसाइड नोट बरामद
Image
बाल विकास विभाग की कारगर योजनाओं से ही कुपोषण से मिला मुक्ति, 2668 केन्द्रों पर पौष्टिक आहार के लिए बच्चों, महिलाओं व किशोरियों में आ रही जागरूकता
Image
महाराष्ट्र से कर्नाटक आने वालों को बिना कोरोना रिपोर्ट देखे एंट्री की गई बन्द !
Image