दिल्ली एनसीआर में महसूस किये गये भूकंप के झटके, 29 मई की रात 9:07 पर आए पांचवे-भूकंप की तीव्रता गति 4.6 नापी गई


पांच किलोमीटर गहराई से आने वाले भूकंप को माना जा रहा बड़ा खतरा


रिपोर्ट : अनीता गुलेरिया


दिल्ली : राजधानी में बीते 13 अप्रैल 2020 से लेकर अब तक चार भूकंप आ चुके हैं। 29 मई शुक्रवार रात 9:07 बजकर आए इस पांचवे भूकंप के झटको को दस सेंकड मे दो बार महसूस किया गया। भूकंप-विज्ञान केंद्र की तरफ से इन झटको की तीव्रता गति 4.6 मापी गई है। अभी थोड़े दिन पहले ही दिल्ली में आए भूकंप की गति 3.5 थी, जिसका मुख्य केंद्र पीतमपुरा था। उसकी गहराई 8 किलोमीटर थी। इस हल्की गति से आए भूकंप की वजह से कोई जान माल का नुकसान नहीं हुआ था। आज के भूकंप का मुख्य-केंद्र हरियाणा का रोहतक जिला रहा इसके अलावा पंजाब और अन्य राज्यों में भी भूकंप के झटकों को महसूस किया गया। भूकंप विज्ञान केंद्र अनुसार आज के भूकंप को बड़ा खतरा माना जा रहा है, क्योंकि यह सिर्फ पांच किलोमीटर की गहराई से आया था । आज के इन झटकों से घरों का सम्मान हिलते देख घरों से बाहर निकल गए ।



बता दें यदि भूकंप आता है तो उस समय हमें किन बातों का खास करके ख्याल रखना चाहिए,सबसे पहले भूकंप के झटके महसूस होते ही आप अपने घरों से बाहर खुले मैदान में आ जाएं और किसी बिल्डिंग के पास खड़े मत होइए,यदि बिल्डिंग ज्यादा ऊंची है और नीचे आने में समय लगता है तो उस समय  आप किसी टेबल,बेड के नीचे छिप जाएं व बिजली के सारे स्विच को ऑफ कर दें। जिस बिल्डिंग में लिफ्ट लगी हो तो भूकंप के समय लिफ्ट का कतई इस्तेमाल ना करें और सीढ़ियों से नीचे उतरने की कोशिश करें भूकंप के दौरान ज्यादा हाय हल्ला शोर मचाकर भगदड़ मचाने की कोशिश मत कीजिए,भगदड़ के कारण ज्यादा जानमाल का नुकसान होने का खतरा बना रहता है इसलिए ऐसा हरगिज ना करें ।


Comments
Popular posts
Mumbai : ‘काव्य सलिल’ काव्य संग्रह का विश्व पर्यावरण दिवस पर विमोचन और सम्मान पत्र वितरण समारोह आयोजित
Image
New Delhi :पर्यावरण संरक्षण महत्व व हमारा अस्तित्व पर 'एम वी फाउंडेशन' द्वारा विराट कवि सम्मेलन का आयोजन
Image
Mumbai : महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमिटी पर्यावरण विभाग के प्रदेश उपाध्यक्ष साहेब अली शेख, मुंबई अल्पसंख्यक अध्यक्ष व नगर सेवक हाजी बब्बू खान, दक्षिणमध्य जिलाध्यक्ष हुकुमराज मेहता ने किया वृक्षारोपण
Image
मानव पशु के संघर्ष पर आधारित फिल्म 'शेरनी' मेरे दिल के करीब है – विद्या बालन
Image
पावस ऋतु के स्वागत में ‘काव्य सृजन’ की ‘मराठी काव्य’ गोष्ठी
Image