भाजपा नगरसेवक हरीश भन्दिरगे कर रहे है, जरूरत मंदो को मदद


निरंतर दो माह से मुफ्त स्वस्थ सामग्री भोजन, अफ्तारी, सहेरी सामग्री का वितरण


रिपोर्ट : यशपाल शर्मा


मुंबई : लॉक डाउन के संकट में हर तरफ लोगों जरूरतमंदों के लिये आगे आये है ।उसी में से एक हरीश भन्दिरगे जो लगातार दो माह गरीब जनता के बीच रोजाना 500 लोगो का खाना, जिसमे मनपा का डिब्बों का भी समावेश है। उसके अलावा बदल बदल कर स्वयं खर्च से पूरी भाजी,इडली सहित अन्य तरह का जैयक से भरा खाना तैयार करवा रहे है ।


उल्लेखनीय तौर पर मुस्लिम सामाज के पवित्र पर्व रमजान को देखते हुए शाम की अफ्तारी तथा सुबह की सहेरी की सामग्री का वितरण किया जा रहा है ।नासिक से सीधे भाजी पाला अपने वार्ड क्रमांक 164-में लाने का कार्य कस्र रहे है। वहीं  800 जरूरतमंदों को राशन का किट का वितरण कर चुके है। इसके अलावा कोरोना से बचाव के लिये सैनिटाइजर, मास्क, का वितरण भी करवाया है। रहिवासिय क्षेत्र को समय से कई बार सनीटाइज़ करवाया है।


 


 


क्या है लॉक डाउन में प्रशासनिक परेशानियां-मौजूदा समय मे क्षेत्री क्लिनिक,डिस्पेंसरी ,नरसिंह होंम बंद होने के कारण कोरोना महामारी से ग्रस्त होकर संक्रमितों की अचानक बाढ़ आचुकि है ।जइसके लिए मैंने वार्ड अफसर को पत्र लिखकर दावा खानों को चालू करने की मांग किया है ।उल्लेखनीय तौर पर हरीश भन्दिरगे के अनुसार जब केंद्र सरकार विभिन्न राज्य सरकारों को प्रवासियों को उनके गांवों तक लाने का खर्च वहन कस्र रही है ।तो क्यों राज्य सरकार प्रवासियों के साथ ऐसा सौतेला व्यवहार क्यों कर रही है ।


राज्य के भूमि पुत्रों के लिये फ़्री एसटी की सेवा तो राज्य में रहने वाले विभिन्न राज्यो के मजदूरों के लिये क्यों नहीं एसटी का सफर फ्री।वार्ड की जनता को दो एम्बुलेंस की सुविधा पूनम ताई महाजन की जरिये जनता के बीच उपलब्ध हो रही है ।कोरोना महामारी के कारणों से अब तक वार्ड में 55 संक्रमितों का मामला उजागर हुआ है ।जिसमे से 8 की मौत हुई है ।वो भी अधिक उम्र वाले वयोवृद्ध जो अन्य बीमारियों से भी पीडित थे। हमने अपने कार्यकर्ताओं की मदद से प्रवासियों को उनके गांवों भेजने के।लिये अपने कार्यालय से 3500 प्रवासियों का पुलिस वेरिफिकेशन फॉर्म क्लियर करवाकर गांवो भेजा है।


Comments