Mumbai : झुग्गियों में आकस्मिक बुखार का प्रकोप, क्षेत्र के क्लिनिक में उमड़े मरीज


रिपोर्ट : यशपाल शर्मा


मुंबई : कोरोना आज मुंबई के तीसरे चरण से लेकर चौथे चरण की ओर जैसे जैसे बढ़ रहा है, वैसे ही मुंबई की झुग्गियों झोपड़पट्टीयो में कुछ नई बात देखने को मिल रही है। क्षेत्र की जनता के आस-पास डॉक्टरों के क्लिनिक, डिस्पेंसरियों में मरीजों की भीड़ उमड़ पड़ी है। परिणाम स्वरूप राज्य की महा विकास आघाड़ी कोरोना की जद में आये एशिया की सबसे बड़ी झुग्गियों झोपड़पट्टी में से कोरोना बाधितों के इलाज के लिये अधिक से अधिक मोहल्ला क्लीनिक की सुविधा उपलब्ध करवाने जा रही है।ठीक उसी तरह की सुविधा मुंबई सहित राज्य के विभिन्न रहवासिय क्षेत्रों में गली गली मुहाला क्लिनिक की शुरुआत कर रही है जिससे घर-घर पहुंच चुके आकस्मिक बुखार से जनता को निजात दिलाया जा सके।


गौरतलब हो कि पहले से ही कोरोना के मरीजों की संख्या से पूरे धारावी की झोपड़पट्टी भरी पड़ी है। वहीं शिवाजीनगर मानखुर्द विधानसभा क्षेत्र भी रेड जोन में चल रहा है। कहा जाता है कि यहां कोरोना संक्रमितों की संख्या 200 के लगभग पहुंच चुकी है। वहीं जिन घरों में कोरोना नहीं पहुंचा वहां पर आकस्मिक बुखार ने हाजिरी लगा दिया है। राज्य का स्वस्थ विभाग अगर समय पर मोहल्ला क्लीनिकों की संख्या प्राय हर झोपड़पट्टी में नहीं बढ़ायेंग तो भविष्य में कोरोना को लेकर काफी डरावने परिणाम आ सकते है।


उल्लेखनीय तौर पर रहवासिय क्षेत्रों में फैल चुके कोरोना पर विजय प्राप्त करना स्वस्थ विभाग के लिये मुमकिन ही नहीं बल्की मुश्किल भरा काम हो जायेगा। दक्ष नागरिकों के अनुसार दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की मोहल्ला क्लीनिकों की अब देश के विभिन्न राज्यों की अधिक से अधिक जरूरत है। केंद्र की मोदी सरकार देश के विभिन्न राज्यों में इसकी गंभीरता को समझकर मोहल्ला क्लीनिक की शुरू करवाकर कोरोना को जड़ से खत्म करने के लिये कोई ठोस कदम उठायेंग !


Comments