Mirzapur : जनपद के लिए एक राहत की खबर, विंध्याचल से कोरोना के एक मरीज को अस्पताल से किया गया डिस्चार्ज


रिपोर्ट : बृजेश गोंड


मिर्जापुर, 27 अप्रैल, उत्तर प्रदेश : जिला प्रशासन और मुख्य चिकित्सा अधिकारी ओपी तिवारी का मेहनत रंग लाता दिख रहा है। मिर्जापुर में अब कोरोना के मात्र 2 मरीज रह गये हैं। एक मरीज को सोमवार को जाँच के बाद छोड़ दिया गया। पूरी सावधानी सतर्कता को ध्यान में रखते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी कदम उठा रहे हैं।


मरीज का प्रथम जाँच 3 अप्रैल को हुआ था जिसमे पॉज़िटिव आया था, जिसके बाद उसे विंध्याचल के स्थित स्वास्थ्य केन्द पर इलाज किया जा रहा था। जिसको राहत मिलने के बाद द्वितीय जाँच 18 अप्रैल को किया गया जिसमे मरीज का रिपोर्ट निगेटिव आया। लेकिन प्रशासन 7 दिन रखने के बाद 25 अप्रैल को तृतीय जाँच कराया फिर भी निगेटिव आया। इसके बाद 27 अप्रैल को 14 दिन अपने आप को होम क्वेरेण्टाइन रखने की बात कहते हुये डिस्चार्ज कर दिया गया।



आप को बतादे की विंध्याचल के आइसोलेशन वार्ड में आइसोलेटेड जमाती इदरीश पुत्र अलाउद्दीन 60 वर्ष शेरवां जमालपुर निवासी की जांच में दो बार नेगेटिव आने पर उसे घर जाने के लिए छोड़ दिया गया। इस तरह से मिर्जापुर में सिर्फ दो करोना पॉजिटिव मरीज भर्ती हैं और एक मरीज भदोही से लाया गया है, जो यहां भर्ती किया गया है। कुल 3 मरीज जनपद मिर्जापुर के विंध्याचल स्थित आइसोलेशन वार्ड में भर्ती है।



सीएमओ ओपी तिवारी ने बताया कि जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल के कुशल निर्देश का यह परिणाम है कि मिर्जापुर की स्थिति बेहतर हो रही है। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि कोई भी व्यक्ति लापरवाही बरते और नियमों का उल्लंघन करें। किसी भी कीमत पर लाक डाउन के नियमों का उल्लंघन करने की अनुमति नहीं दी जायेगी और जनपद वासी हमेशा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मास्क का प्रयोग करें ताकि कोरोना जैसी महामारी को हम सब आराम से मात दे सके।


Comments